एड़ी में दर्द का उपाय !




पैर में दर्द एक ऐसी समस्या है जिसे अमूमन सब अनदेखा करते हैं किन वजहों से पैरों में होता है दर्द और कैसे इससे  पाएं छुटकारा जानते हैं....






जोड़ो के दर्द का इलाज


टहलना को व्यायाम का सबसे आसान और प्रभावी तरीका माना जाता है यह सच भी है लेकिन अगर एक कदम बढ़ना और चलना भी आपके लिए मुश्किल हो जाए तो  अमेरिकन आर्थोपेडिक फुट एंड एंकल सोसाइटी के मुताबिक लगभग 80% महिलाओं को पैरों में दर्द की समस्या होती है वहीं पुरुषों में भी यह आम है घटिया या आस्टियोपोरोसिस के अलावा भी दर्द के कई कारण होते हैं आइए जानते हैं

एक जूता कई इस्तेमाल                                                         

Woman sitting  catch her ankle foot and she has foot pain. Caused by wearing high heels red.Health and beauty conceptsफिटनेस से जुड़ी विभिन्न गतबिधियो  के लिए अलग-अलग तरह के जूते होते हैं जो उसी फिटनेस की स्थिति को ध्यान में रखकर तैयार किए जाते हैं अपने में व्यायाम की प्रकृति के अनुरूप ही जूतों का चुनाव करना चाहिए एक ही तरह के जूते  इस्तेमाल करना दर्द का कारण बनता है






प्लांटार फासिसाइटिस

प्लांटर फेसियाईटीश ऊतकों का एक समूह होता है जो हमारी एड़ी और पैर की सभी उंगलियों को जोड़ने का काम करता है यह तलवे के घुमावदार हिस्से को सहारा देता है एक तरह से वह शरीर के भार को सहन करने का काम करता है  जब पैरों के इस हिस्से पर बहुत ज्यादा दबाव पड़ता है तो वह कमजोर हो जाता है या फिर उसमें सूजन आ जाती है तो एड़ी में तेज दर्द होने लगता है इस स्थिति में चलने और यहां तक कि खड़े होने पर पैरों में दर्द होता है

भारत में हर साल इस बीमारी के एक करोड़ से ज्यादा मामले सामने आते हैं अमूमन यह परेशानी अधेड़ उम्र के लोगों को होती है पर कई बार ऐसे युवा भी प्लांटर  फासिसाइटिस के शिकार हो जाते हैं जो ज्यादातर खड़े रहते हैं कभी दोनों तो कभी एक पैर में भी यह समस्या हो जाती है प्लांटार फासिसाइटिस  की परेशानी उन लोगों को ज्यादा होती है जिन्हें फ्लैट फुट  की समस्या होती है यानी जिनके तलवे सपाट होते हैं ज्यादा वजन बालों में भी की समस्या अधिक होती है

वजन बढना मुख्य कारण

अगर खानपान और मैं एक व्यायाम पर ध्यान ना दिया जाए तो धीरे-धीरे बजन कब बढ़ जाता है पता ही नहीं चलता यह बढ़ा हुआ भजन पैरों के दर्द का कारण बन सकता है पैर पूरे शरीर का वजन उठाते हैं अगर बजन  लंबाई के अनुपात में ज्यादा हो तो पैरों पर ज्यादा दबाव पड़ता है और उनमें दर्द होने लगता है गर्भावस्था के दौरान भी पैरों पर ज्यादा बल पड़ने से उनमे नियमित दर्द रहेता है

आजमायें ये उपाय 

  • तलवे के नीचे एक मुलायम बाल  रखें और उसे तलवे  की मदद से धीरे-धीरे आगे- पीछे करें
  • गुनगुने पानी में पैरों को कुछ देर डुबोकर रखें ज्यादा गर्म पानी ना लें इसमें दर्द बढ़ सकता है
  • अगर दर्द  लगातार रहता है तो विशेषज्ञ की मदद में पैरों के लिए कस्टमाइज्ड फुट कुशन बनबाय  जिससे पैरों पर शरीर का वजन संतुलित तरीके से पड़ेगा 
  • बर्फ वाले पानी या बर्फ से पैर की सिकाई करें बर्फ की सिकाई से पैरों में सूजन व दर्द से आराम मिलता है 





कोई टिप्पणी नहीं

Blogger द्वारा संचालित.